About mutual fund in hind - म्यूचुअल फंड क्या है

About mutual fund in hind - म्यूचुअल फंड क्या है

About mutual fund in hind - हर कोई अपने रोजाना जिंदगी में म्यूच्यूअल फण्ड यह नाम हमेशा सुनता रहता है। पर इसके बारे में काफी कम लोग ही जानते है। बहोतसे लोग तू बस यही कहते है की म्यूच्यूअल फण्ड यानि शेयर मार्केट ही होता है। और ऐसे बहोतसे सवाल हमें मिलने के वजह से हम आज आपको म्यूच्यूअल फण्ड के बारे में सभी जानकारी देनेवाले है।
काफी लोग तो म्यूच्यूअल फण्ड के बारे में जाने बिना ही उसे एक जुआ समझकर इससे दूर ही रहना पसंद करते है। 
About mutual fund in hind - म्यूचुअल फंड क्या है
About mutual fund in hind - म्यूचुअल फंड क्या है
  काफी लोग इंडिया में शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करने से डरते है क्योकि उनको रिस्क लेने से डर लगता है। इसलिए ऐसे लोगो के लिए म्यूच्यूअल फण्ड (About mutual fund in hind) काफी सुरक्षित और कम जोखिम भरा इन्वेस्टमेंट प्लान है। इसलिए उससे आसान तरीका है की हम अपने पैसे म्यूच्यूअल फण्ड में इन्वेस्ट करे. म्यूच्यूअल फण्ड में अपने पैसे को लेकर रिस्क कम होती है।साथ ही म्यूच्यूअल फण्ड में हम छोटी सी अमाउंट को Invest कर कर भी स्टार्ट कर सकते है. अगर हम बस ५०० रुपये महीने से भी म्यूच्यूअल फंड में investment स्टार्ट करे तो १ साल में अच्छी बचत कर सकते है. में आप को सजेस्ट करता हु की आप अपने पैसो को म्यूच्यूअल फण्ड में ही इन्वेस्ट करे न की Share Market  में.  

About mutual fund in hind - म्यूचुअल फंड क्या है
About mutual fund in hind - म्यूचुअल फंड क्या है

About mutual fund in hind - म्यूचुअल फंड क्या है

म्यूच्यूअल फण्ड सभी Investors से पैसे कलेक्ट करते है और उन सभी इन्वेस्टमेंट को एक फण्ड में डाला जाता है। जिसे म्यूच्यूअल फण्ड कहते है। अभ फण्ड मैनेजर अपने experience से उस इन्वेस्टमेंट को कही जगह पर यानि विभिन्न वित्तीय साधनो में इन्वेस्ट करते है। 

About mutual fund in hind

म्यूचुअल फंड छोटे निवेशकों को इक्विटी, बॉन्ड और अन्य प्रतिभूतियों के विशेषज्ञों द्वारा प्रबंधित पोर्टफोलियो में भाग लेने का मौका प्रदान करते हैं। इसलिए प्रत्येक निवेशक फंड के लाभ या हानि में आनुपातिक रूप से भागीदार होता है। म्यूचुअल फंड बड़ी संख्या में प्रतिभूतियों में निवेश करते हैं और इनके प्रदर्शन को आमतौर पर इनके द्वारा निवेश के कुल AMU यानी एसेट अंडर मेनेजमेंट में बदलाव के रूप में ट्रैक किया जाता है।
जब कही इन्वेस्टर्स अपने पैसो को एक बडे फंड में इन्वेस्ट करते है। उस वक़्त उस फण्ड को कही भागो में बाट दिया जाता है उसे यूनिट कहते है।  
जब वह म्यूच्यूअल फण्ड अच्छे से मुनाफा कमा लेता है और फिर म्यूच्यूअल फण्ड मैनेजर उसे अपने इन्वेस्टर्स को Return करता है। उस वक़्त के उस फण्ड के price को उस्वक़्त की कीमत में investors को बाटा जाता है। 

Mutual Fund कैसे काम करता है

म्युचुअल फंड काफी experience और professional managers से चलाया जाता है। जो ग्राहकों का पैसा ऐसे जगह पर इन्वेस्ट करते है जहा से सभी इन्वेस्टर्स को अच्छा सा मुनाफा मिले। म्यूचुअल फंड के पोर्टफोलियो को इसके प्रॉस्पेक्टस में बताए गए निवेश उद्देश्यों के अनुसार बनाया जाता है।

Mutual Fund के फायदे

म्यूच्यूअल फण्ड छोटे Investors के लिए काफी फायदेमंद विकल्प है। जो लोग शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करना चाहते है पर उन्हें बाजार के बारे में कुछ नहीं पता है। उन beginners के लिए यह जरुरी  है की वह अपने इन्वेस्टमेंट की शुरुवात शेयर मार्केट से करे। साथ ही एक छोटा इन्वेस्टर किसी बडे शेयर में इन्वेस्ट नहीं कर पाता है पर म्यूच्यूअल फण्ड की साहयता से वह बड़े शेयर में इन्वेस्ट कर सकता है। 

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें. CLICK HEAR
Oldest